SILENT COURSE

Essay Writing, Letter Writing, Notice Writing, Report Writing, Speech, Interview Questions and answers, government exam, school speeches, 10 lines essay, 10 lines speech

Recent

Search Box

Monday, August 8, 2022

08 August

Azadi Ka Amrit Mahotsav Speech In English - Speech on Azadi Ka Amrit Mahotsav 2022

Hello everyone we will learn that how to write Azadi Ka Amrit Mahotsav Speech In English Language. English Speech on Azadi Ka Amrit Mahotsav is very important for school students.

Speech on Azadi ka Amrit Mahotsav (550 Words)

Welcome to the honorable chief guest, principal sir, teachers and my all dear friends. My name is Pankaj Soni and I wish you all a very Happy Independence Day and Azadi ka Amrit Mahotsav. This year is very special for all of us Indians, because on this day our country is completing 75 years of independence from the slavery of the British. As we all know that our country became independent on 15th August 1947. In the joy of completing 75 years of independence, India is celebrating the 'Azadi Ka Amrit Mahotsav' for the last one year and this festival will be celebrated till 15th August 2023.
Azadi Ka Amrit Mahotsav Speech In English, Azadi Ka Amrit Mahotsav Speech, Azadi Ka Amrit Mahotsav, Azadi Ka Amrit Mahotsav Speech In English 2022, Azadi Ka Amrit Mahotsav Speech 2022, Speech on Azadi Ka Amrit Mahotsav 2022, Speech on Azadi Ka Amrit Mahotsav In English 2022, English Speech on Azadi Ka Amrit Mahotsav, English Speech on Azadi Ka Amrit Mahotsav 2022
Azadi Ka Amrit Mahotsav
There are many purposes for celebrating the Azadi Ka Amrit Mahotsav such as remembering the freedom fighters, remembering the sacrifices of the freedom fighters, making today's generation aware of the independence of India, inculcating the feeling of patriotism among the citizens of India and It is very important for people to know the achievements that India has achieved in the last 75 years.

Most of the young generation of India is not well acquainted with the freedom struggle of India such as: What challenges did our country face to get freedom and how many people sacrificed their lives to make the country independent. After so many struggles and difficulties, we got this freedom. It is very important for the young generation of today to know the history of India's independence, because we are the future of the country.

Our country got independence from the British after 200 years of slavery. For almost 200 years our freedom fighters fought with the British and faced many difficulties. Even our freedom fighters had sacrificed their lives to free India from the slavery of the British. My heartfelt salute to all those freedom fighters, because the independent life that we are living today is the gift of them. Great freedom fighters of India like Mahatma Gandhi, Bhagat Singh, Sukhdev, Rajguru, Subhash Chandra Bose, Khudiram Ram Bose, Chandrashekhar Azad, Sardar Vallabhbhai Patel, Lala Lajpat Rai, Bal Gangadhar Tilak, Lal Bahadur Shastri, Jawaharlal Nehru, Rani Laxmibai, Mangal Pandey, Tatya Tope was born in India. All of them played an important role in the independence of India.

We all should know the value of freedom, so that our generation and the coming generation can get courage to face the challenges facing the country. Stories of freedom struggle must be taught in schools, so that children can understand the history of the country's independence and the importance of independence.

Our country has completed 75 years of independence and in these 75 years our country has achieved many achievements. India is progressing continuously. The economy of our country is a very fast growing economy. There was a time when after the partition of the country, the economy of our country had become very bad and it became difficult to run the country, but on the strength of our continuous efforts, our country is standing in front of the world as a strong economy today.

Every citizen of India should participate in the Azadi ka Amrit Mahotsav and this campaign should be made successful by participating in the the ongoing campaign “Har Ghar Tiranga” during this festival/event.

Today, on this holy occasion, let us take an oath that we will always protect the freedom of our country. We will continuously take our country in the right direction and we will definitely contribute towards the development of our country.

Jai Hind – Jai Bharat.
Facebook: Silent Course
YouTube: Silent Course

Sunday, August 7, 2022

07 August

Har Ghar Tiranga Essay In English - Essay on Har Ghar Tiranga In English

Hello everyone we will learn that how to write Har Ghar Tiranga Essay In English/ Essay on Har Ghar Tiranga In English Language.

Essay on Har Ghar Tiranga (350 Words)

Introduction: “Har Ghar Tiranga” is a campaign run by the Government of India. This campaign has been started under the Azadi ka Amrit Mahotsav. The Government of India has started this campaign to make the 75th Independence Day memorable. Under this campaign, the Prime Minister of India, Shri Narendra Modi has requested the people of India to hoist the national flag at their homes and make "Har Ghar Tiranga Abhiyan/campaign" a successful.
Har Ghar Tiranga Essay In English, Har Ghar Tiranga Essay, English Essay on Har Ghar Tiranga, Har Ghar Tiranga English Essay, Essay on Har Ghar Tiranga 2022, Essay on Har Ghar Tiranga In English 2022, Har Ghar Tiranga, Har Ghar Tiranga 2022
Picture: Har Ghar Tiranga
Har Ghar Tiranga Abhiyan/Campaign: Har Ghar Tiranga campaign has been launched to mark the 75th anniversary of India’s independence. To participate in this campaign, Indians have to hoist the national flag of India at their home from 13 August 2022 to 15 August 2022 and at the same time it has also been requested that all Indians should put the picture/photo of the Indian flag in the profile of their social media account. Certificates will also be given to the people who participated in this campaign. The website 'harghartirang.com' has also been launched for information related to the campaign. The Prime Minister of India, Shri Narendra Modi had announced this campaign on the occasion of "National Flag Day".

Purpose of Har Ghar Tiranga Campaign: The sole objective of the Har Ghar Tiranga campaign is to inculcate a sense of patriotism and respect for the national flag in the minds of Indian people. that's why the Prime Minister of India, Shri Narendra Modi has requested to hoist the national flag at every home.

Importance of Har Ghar Tiranga Campaign: Har Ghar Tiranga Abhiyan/campaign is very important for Indians because under this campaign efforts are being made to connect the people of India together. When every citizen of India will hoist the Indian flag at his home, then the feeling of patriotism will be awakened in every Indian.

Conclusion: The national flag of India is a symbol of the pride of the country. Through the Har Ghar Tiranga campaign, people have to be informed about the importance of the national flag. Everyone should respect the national flag of India. It is a matter of pride for all Indians to celebrate the Azadi Ka Amrit Mahotsav and to be associated with the Har Ghar Tiranga campaign. Therefore it is the duty of all Indians to join the campaign run by the government and cooperate in making this campaign a success.
Facebook: Silent Course
YouTube: Silent Course
07 August

हर घर तिरंगा पर निबंध - Har Ghar Tiranga Essay In Hindi 2022

Hello Everyone we will learn that how to write Har Ghar Tiranga Essay In Hindi Language. Hindi Essay on Har Ghar Tiranga is very important for school students.

निबंध: हर घर तिरंगा (400 शब्द)

“भारत का तिरंगा है हमारे देश की शान
आओ मिलकर सफल बनायें हर घर तिरंगा अभियान”

परिचय: हर घर तिरंगा भारत सरकार द्वारा चलाया गया एक अभियान है। यह अभियान आजादी का अमृत महोत्सव के तहत शुरू किया गया है। 75वें स्वतंत्रता दिवस को यादगार बनाने के लिए भारत सरकार नें यह अभियान चलाया है। इस अभियान के तहत भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद मोदी जी नें भारतवासियों को अपने घर पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फहराने और हर घर तिरंगा अभियान को सफल बनाने का अनुरोध किया है।
Har Ghar Tiranga Essay In Hindi, Har Ghar Tiranga Essay, Har Ghar Tiranga Hindi Essay, Essay on Har Ghar Tiranga, Essay on Har Ghar Tiranga In Hindi, Har Ghar Tiranga Essay In Hindi 2022,  Har Ghar Tiranga, Har Ghar Tiranga 2022, हर घर तिरंगा पर निबंध
Har Ghar Tiranga
हर घर तिरंगा अभियान: भारत की आजादी का 75वीं वर्षगांठ को चिह्नित करने के लिए “हर घर तिरंगा अभियान” चलाया गया है। इस अभियान में शामिल होने के लिए भारतवासियों को 13 अगस्त 2022 से 15 अगस्त 2022 तक अपने घर, आंगन या छत में भारत का राष्ट्रीय ध्वज “तिरंगा” फहराना है और साथ ही यह भी अनुरोध किया गया है कि सभी भारतवासी अपने सोशल मीडिया अकाउंट के प्रोफाइल में तिरंगा की चित्र/फोटो लगायें। इतना ही नहीं इस अभियान में योगदान देने वालों को एक सर्टिफिकेट भी दिया जायेगा। अभियान से जुड़ी प्रत्येक जानकारी के लिए वेबसाइट harghartiranga.com लांच भी किया गया है। भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने “राष्ट्रीय ध्वज दिवस” के अवसर पर इस अभियान की घोषणा की थी।

हर घर तिरंगा अभियान का उद्देश्य: हर घर तिरंगा अभियान का एकमात्र उद्देश्य भारतवासियों के मन में राष्ट्रीय ध्वज के प्रति सम्मान और देश के प्रति देश भक्ति की भावना को जागृत करना है। इसलिए भारत देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी नें राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा घर- घर फहराने का अनुरोध किया है।

हर घर तिरंगा अभियान का महत्व: हर घर तिरंगा अभियान का महत्व बहूत अधिक है क्योंकि इस अभियान के तहत भारतवासियों को एक साथ जोडनें का प्रयास किया जा रहा है। जब भारत देश का हर एक नागरिक अपनें घर पर तिरंगा लहराएगा तब प्रत्येक देशवासियों में देशभक्ति की भावना जागृत होगी।

निष्कर्ष: भारत का राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा देश के गौरव का प्रतिक है। हर घर तिरंगा अभियान के माध्यम से लोगों में राष्ट्रीय ध्वज के महत्व के बारे में बताना है। प्रत्येक व्यक्ति को अपने राष्ट्रीय ध्वज का सम्मान करना चाहिए। आजादी का अमृत महोत्सव मनाना और हर घर तिरंगा अभियान से जुड़ना सभी भारतवासियों के लिए गर्व की बात है। इसलिए सभी भारतवासियों का कतर्व्य है कि सरकार द्वारा चलाये गए अभियान से जुड़कर इस अभियान को सफल बनाने में सहयोग करें।
Facebook: Silent Course
YouTube: Silent Course 

Saturday, August 6, 2022

06 August

आजादी का अमृत महोत्सव पर शानदार भाषण - Azadi Ka Amrit Mahotsav Speech In Hindi 2022

Hello Every one we will learn that how to write Speech on Azadi Ka Amrit Mahotsav In Hindi Language. Azadi Ka Amrit Mahotsav Speech is very important for school students.

भाषण: आजादी का अमृत महोत्सव

आदरणीय प्रधानाचार्य, सभी शिक्षकगन और मेरे प्यारे देशवासियों को मेरा नमस्कार। मैं पंकज सोनी आप सभी को स्वतंत्रता दिवस और आजादी का अमृत महोत्सव की हार्दिक शुभकामनाएं देता हूँ। यह वर्ष हम सभी भारतवासियों के लिए बहुत ही खास है, क्योंकि आज के दिन ही हमारे देश को अंग्रेजों की गुलामी से आजाद हुए 75 वर्ष पुरे हो रहें हैं। जैसा की हम सभी जानते हैं कि आज के दिन ही अर्थात 15 अगस्त 1947 को हमारा भारत देश अंग्रेजों की गुलामी से आजाद हुआ था। आजादी के 75 वर्ष पुरे होनें की खुशी में भारत पिछले एक वर्ष से आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है और यह महोत्सव 15 अगस्त 2023 तक मनाया जाएगा।
Azadi Ka Amrit Mahotsav Speech In Hindi, Azadi Ka Amrit Mahotsav Speech In Hindi 2022,  Hindi Speech on Azadi Ka Amrit Mahotsav, Speech on Azadi Ka Amrit Mahotsav In Hindi, Speech on Azadi Ka Amrit Mahotsav In Hindi 2022
Azadi ka Amrit Mahotsav
इस महोत्सव को मनाने का मुख्य उद्देश्य स्वतंत्रता सेनानियों को याद व् स्मरण करना है, वीर सपूतों के बलिदानों को याद करना है, आज की पीढ़ी को आजादी के महत्व को समझाना है, भारत के नागरिकों में देशभक्ति की भावना पैदा करना है और पिछले 75 वर्षों में देश द्वारा प्राप्त की गई उपलब्धियों को बतलाना है।

भारत की अधिकांश युवा पीढ़ी भारत की अजादी के संघर्ष से भलीभांती परिचित नहीं है जैसे: आजादी पाने के लिए हमारे देश को किन-किन चुनौतियों का सामना करना पड़ा, देश को स्वतंत्र कराने में कितने लोगों नें अपने जीवन का बलिदान दिया और कितने संघर्ष और कठिनाइयों के बाद हमें ये आजादी मिली। भारत देश का इतिहास आज की युवा पीढ़ी को जानना बहुत आवश्यक है, क्योंकि हम युवा ही देश का भविष्य हैं।

हमारे भारत देश को आजादी, अंग्रेजों की 200 वर्षों की गुलामी के बाद मिला था। लगभग 200 वर्ष तक हमारे देश के सपूतों ने अंगेजों से संघर्ष और कई कठिनाइयों का सामना किया। यहाँ तक की हमारे स्वतंत्रता सेनानियों नें भारत को अंग्रेजों की गुलामी से आजाद करानें के लिए अपना जीवन तक बलिदान कर दिया था। उन सभी स्वतंत्रता सेनानियों को मेरा दिल से नमन है, क्योंकि आज हम जो स्वतंत्र जीवन जी रहें हैं उन्ही की देन है। महत्मा गाँधी, भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु, सुभाष चंद्रबोस, खुदीराम राम बोस, चंद्रशेखर आजाद, सरदार वल्लभ भाई पटेल, लाला लाजपत राय, बाल गंगाधर तिलक, लाल बहादुर शास्त्री, जवाहर लाल नेहरु, रानी लक्ष्मीबाई, मंगल पांडे, तात्या टोपे आदि जैसे स्वतंत्रता सेनानियों के संघर्षों और बलिदानों की वजह से ही हमारा भारत देश अंग्रेजों की गुलामी से आजाद हुआ था।

हम सभी को आजादी का मूल्य ज्ञात होना चाहिए, जिससे की हमारी पीढ़ी और आने वाली पीढ़ी को देश के सामने आने वाली चुनौतियों का सामना करनें की हिम्मत मिल सके। स्कूलों में आजादी के संघर्ष की कहानियाँ अवश्य पढ़ाना चाहिए, जिससे बच्चे देश की आजादी का इतिहास और आजादी के महत्व को समझ सकें।

हमारे देश को आजाद हुए 75 साल पुरे हो चुके हैं और इन 75 सालों में हमारा भारत देश कई उपलब्धियाँ हासिल कर चूका है और निरंतर हमारा भारत देश आगे बढ़ रहा है। हमारे देश की अर्थव्यवस्था बहूत तेजी से उभरती हुई अर्थव्यवस्था है। एक समय था जब देश के विभाजन के बाद हमारे देश की अर्थव्यवस्था बहूत ख़राब हो गई थी और देश को चलाना मुश्किल सा हो गया था, लेकिन हमारा देश अपने निरन्तर प्रयासों के बल पर आज एक मजबूत अर्थव्यवस्था के रूप में विश्व के सामने खड़ा है।

आज हमारा देश हर क्षेत्र में अपना परचम लहरा रहा है चाहे वह शिक्षा का क्षेत्र हो, खेल का क्षेत्र हो, सैन्य बल का क्षेत्र हो या कोई और क्षेत्र। हर क्षेत्र में भारत निरंतर आगे बढ़ रहा है। आज भारत की जो छवि पूरी दुनिया के सामने बनी है, उसके बारे में सोचकर मुझे बहूत ही गर्व की अनुभूति होती है और आप सभी को भी गर्व की अनुभूति होनी चाहिए।

हम एक-एक करके सभी क्षेत्र में निरंतर आगे बढ़ रहें है, उसका कारण है हमारे देश का स्वतंत्र होना। हम स्वतंत्र हैं, इसलिए हम हर क्षेत्र में सफलता के झंडे गाड़ रहें हैं। इसलिए हम सभी को अपने स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति कृतज्ञ होना चाहिए और उन्हें दिल से धन्यवाद करना चाहिए।

आजादी के इस अमृत महोत्सव में भारत देश के प्रत्येक नागरिक को सम्मलित होना चाहिए और इस महोत्सव के दौरान चल रहे अभियान “हर घर तिरंगा” में हिस्सा लेकर इस अभियान को सफल बनाना चाहिए।

आज इस पावन अवसर पर हम यह संकल्‍प व् शपथ ले कि हम अपने देश की स्‍वतंत्रता की रक्षा हमेशा करेंगे। अपने देश को निरंतर सही दिशा में लेकर जायेंगे और अपने देश के विकास में अपना योगदान अवश्य देंगे। अंत में बस इतना ही कहना चाहूँगा कि :-
“आजादी का अमृत महोत्सव हम सभी को मिलकर मनाना है,
जन-जन की भागीदारी से आत्मनिर्भर भारत बनाना है।”
जय हिन्द-जय भारत!
Facebook: Silent Course
YouTube: Silent Course

Thursday, August 4, 2022

04 August

Essay on Azadi ka Amrit Mahotsav In English For Students - 15 August

Hello everyone we will learn that how to write Essay on Azadi Ka Amrit Mahotsav In English Language. (350 words)

Essay on Azadi ka Amrit Mahotsav In English For Students, Essay on Azadi ka Amrit Mahotsav In English, Essay on Azadi ka Amrit Mahotsav

Essay on Azadi ka Amrit Mahotsav (350 Words)

Introduction: Azadi ka Amrit Mahotsav is celebrated every 25 years in India, so that our today's generation can know how many struggles and difficulties India had to face in getting freedom from the British. Our India got freedom from the slavery of the British on 15th August 1947. India's 75th year of independence will be completed on 15 August 2022.


When did the Azadi ka Amrit Mahotsav begin: Azadi ka Amrit Mahotsav was inaugurated by the Prime Minister of India, Shri Narendra Modi, on 12 March 2021 by flagging off the 'Dandi March' from Sabarmati Ashram, Ahmedabad. On this day Mahatma Gandhi started the 'Salt Satyagraha'.

How long will the Azadi ka Amrit Mahotsav be celebrated: Azadi ka Amrit Mahotsav will be celebrated till 15th August 2023.

What is the purpose of celebrating Azadi ka Amrit Mahotsav: Azadi ka Amrit Mahotsav is an initiative of the Government of India and It is celebrated so that the citizens of India can be reminded of the glorious history and achievements of India and to inculcate the feeling of patriotism towards the country of India among the people. Through this festival, today's generation has to be told that how India got independence from the British, which revolutionaries were involved in liberating India and what achievement India has achieved so far after independence.

Azadi ka Amrit Mahotsav Programs: Azadi ka Amrit Mahotsav is a national festival. This festival will be celebrated for 75 weeks. This festival is celebrated with great pomp in all government institutions and political parties also take out their rallies to celebrate this festival so that people can tell its importance. Cultural programs are also organized in schools where the stories of India's freedom struggle are told to the students of the school.

Conclusion: The history of India is very ancient and very vast. India has a glorious history of its own. Through the Azadi ka Amrit Mahotsav, today's generation should know that how India got freedom from the slavery of the British. Every citizen of India should participate in Azadi Ka Amrit Mahotsav.
YouTube: Silent Course
Facebook: Silent Course

Wednesday, August 3, 2022

03 August

निबंध : आजादी का अमृत महोत्सव - Essay on Azadi Ka Amrit Mahotsav In Hindi - 500 Words

Hello everyone we will learn that how to write Essay on Azadi Ka Amrit Mahotsav In Hindi. (600 words)

निबंध : आजादी का अमृत महोत्सव (600 शब्द)

परिचय: भारत में हर 25 साल में आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जाता है, ताकि हमारी आज की पीढ़ी जान सके कि भारत देश को अंग्रेजों से आजादी हासिल करने में कितनें संघर्षों और कठिनाइयों का सामना करना पड़ा था। हमारा भारत देश अंग्रेजों की गुलामी से 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ था। 15 अगस्त 2022 को भारत की स्वतंत्रता का 75वां वर्ष पूरा हो जायेगा।
Azadi Ka Amrit Mahotsav, Essay on Azadi Ka Amrit Mahotsav in hindi, hindi essay on Azadi Ka Amrit Mahotsav, Azadi Ka Amrit Mahotsav essay in hindi, Azadi Ka Amrit Mahotsav hindi essay
Picture: Azadi Ka Amrit Mahotsav
आजादी का अमृत महोत्सव कब शुरू हुआ: आज़ादी का अमृत महोत्सव का उद्घाटन भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 12 मार्च 2021 को साबरमती आश्रम, अहमदाबाद से 'दांडी मार्च' को हरी झंडी दिखाकर किया था। इस दिन ही महात्मा गांधी ने 'नमक सत्याग्रह' की शुरुआत की थी।

आजादी का अमृत महोत्सव कब तक मनाया जाएगा: आजादी का अमृत महोत्सव 15 अगस्त 2023 तक मनाया जायेगा।

आजादी का अमृत महोत्सव मानाने का उद्देश्य क्या है: 'आजादी का अमृत महोत्सव' भारत सरकार की एक पहल है और यह इसलिए मनाया जाता है ताकि भारत के नागरिकों को भारत के गौरशाली इतिहास और उपलब्धियों स्मरण कराया जा सके और उनमें भारत देश के प्रति देशभक्ति की भावना जागृत कर सके। इस महोत्सव के माध्यम से आज की पीढ़ी को यह भी बताना है की कैसे भारत देश को अंग्रेजों से कई वर्षों के संघर्षों के बाद आजादी मिली थी। भारत को आजाद करानें में किन-किन क्रांतिकारियों का योगदान था और अंग्रेजों से आजादी के बाद अब तक भारत देश ने क्या-क्या उपलब्धियां हासिल की।

आजादी के 75 वर्ष पुरे होने तक भारत की उपलब्धियां: भारत अंग्रेजों की गुलामी से आजाद होने के बाद लगातार तीव्र गति से हर क्षेत्र आगे बढ़ रहा है, भारत देश की कुछ महत्वपूर्ण उपलब्धियां:-
1) 1948 को भारत ने भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने पहला स्वर्ण पदक में जीता था।
2) 1949 में भारतीय रिजर्व बैंक का राष्ट्रीयकरण हुआ।
3) 1950 में भारत का संविधान लागू हुआ।
4) 1953 में एअर इंडिया का राष्ट्रीयकरण हुआ।
5) 1955 में भारत का पहला कंप्यूटर लांच किया गया।
6) 1962 में परमाणु ऊर्जा अधिनियम पारित हुआ।
7) 1969 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) की स्थापना हुई।
8) 1974 को पोखरण में पहला परमाणु परीक्षण किया गया।
9) 1984 में राकेश शर्मा भारत के पहले अंतरिक्ष यात्री बने।
10) 2018 में रेलवे ने डीजल इंजन को इलेक्ट्रिक में बदल दिया।

आजादी का अमृत महोत्सव के कार्यक्रम: आजादी का अमृत महोत्सव एक राष्ट्रीय महोत्सव है। यह महोत्सव 75 सप्ताह तक मनाया जायेगा। इस महोत्सव को सभी सरकारी संस्थान में बहूत धूमधाम से मनाया जाता है और इस महोत्सव मनाने के लिए राजनीतिक पार्टियां अपनी रैलियां भी निकालती हैं ताकि लोगों को इसका महत्व बता सके। स्कूलों में भी सांस्कृतिक कार्यक्रम कराये जाते हैं जहाँ स्कूल के छात्रों को भारत की आजादी के संघर्ष की कहानियां बताई जाती है।
YouTube: Silent Course
Facebook: Silent Course

Monday, August 1, 2022

01 August

स्वतंत्रता दिवस पर 10 पंक्ति - 10 Lines on Independence Day In Hindi 2022

Hello everyone we will learn that how to write 10 Lines on Independence Day In Hindi 2022

10 Lines on Independence Day In Hindi, 10 Lines on Independence Day

स्वतंत्रता दिवस पर 10 पंक्ति

1) स्वतंत्रता दिवस भारत का एक राष्ट्रीय त्यौहार/उत्सव है।

2) स्वतंत्रता दिवस हर साल 15 अगस्त के दिन बहूत धूमधाम के साथ मनाया जाता है।

3) 15 अगस्त 1947 के दिन ही भारत देश अंग्रजों की गुलामी से स्वतंत्र हुआ था।

4) आजादी से पहले भारत में लगभग 200 वर्षों तक ब्रिटिशों/अंग्रेजों का शासन था।

5) भगत सिंह, सुखदेव, राज गुरु, महात्मा गांधी, नेताजी सुभाष चंद्र बोस इत्यादि जैसे अन्य महान क्रांतिकारियों के प्रयास और बलिदान के कारण ही भारत आज स्वतंत्र है।

6) भारत के प्रधानमंत्री दिल्ली के लाल किले में तिरंगा झंडा फहराते हैं।

7) स्कूल, कॉलेज और कार्यालयों में भी तिरंगा झंडा फहराया जाता है।

8) झंडा फहराने के बाद देश के सम्मान में राष्ट्रगान गाया जाता है।

9) स्वतंत्रता दिवस के दिन कई स्थानों/जगहों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम किया जाता है।

10) 15 अगस्त के दिन पुरे भारत देश में एक दिन का राष्ट्रीय अवकाश भी होता है
YouTube: Silent Course
Facebook: Silent Course