Essay Writing, Letter Writing, Notice Writing, Report Writing, Speech, Interview Questions and answers, government exam, school speeches, 10 lines essay, 10 lines speech

Recent

Search Box

Monday, September 5, 2022

अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर निबंध - Essay on International Literacy Day In Hindi 2022

Hello everyone, we will learn that how to write Essay on International Literacy Day In Hindi (अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर निबंध)

अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस

परिचय: "अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस" ​​हर साल 8 सितंबर को पूरे विश्व में मनाया जाता है। 17 नवंबर 1965 को "यूनेस्को" ने 8 सितंबर को "अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस" ​​के रूप में मनाने की घोषणा की थी। पहला "अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस" ​​8 सितंबर 1967 को मनाया गया था। यह दिन दुनिया के सभी लोगों को शिक्षा के महत्व के बारे में जागरूक करने के लिए मनाया जाता है।
Essay on International Literacy Day in Hindi, Essay Writing on International Literacy Day in Hindi, Hindi Essay Writing on International Literacy Day
Picture: International Literacy Day
अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस का महत्व और उद्देश्य: इस दिवस को मनाने का सबसे बड़ा उद्देश्य समाज के सभी वर्गों के लोगों को शिक्षित करना और शिक्षा के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाना है, ताकि सभी को शिक्षा के प्रति जागरूक किया जा सके। इस दिन को मनाने का मकसद हर बच्चे को स्कूल में पढ़ने के लिए प्रेरित करना है। आज के समय में जीविकोपार्जन के लिए हर किसी का शिक्षित होना बहुत जरूरी है। अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस हमारे जीवन में शिक्षा के बारे में जागरूकता फैलाने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

साक्षर होना क्यों आवश्यक है: अधिकांश सामाजिक समस्याओं की जड़ निरक्षरता है। निरक्षरता अँधेरे के समान है, क्योंकि निरक्षर व्यक्ति न तो सोच सकता है और न ही अपने लिए अच्छा कर सकता है, तो वह राष्ट्र और परिवार के विकास में क्या योगदान दे पाएगा। इसलिए सभी का साक्षर/शिक्षित होना बहुत जरूरी है।

अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस कार्यक्रम: इस दिन कई संस्थान, स्कूल और कॉलेज सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करते हैं, जिसमें शिक्षक, मुख्य अतिथि और छात्र सभी एक साथ भाग लेते हैं। अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस के महत्व के बारे में शिक्षक छात्रों को महत्वपूर्ण जानकारी और भाषण देते हैं। स्कूलों और कॉलेजों में लेखन, व्याख्यान, भाषण, कविता, खेल, निबंध, पेंटिंग और गीत की प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं। इस प्रतियोगिता में विजेता छात्र-छात्राओं को पुरस्कार भी दिए जाते हैं।

सरकारी या गैर-सरकारी संगठन बच्चों की शिक्षा के लिए प्रतियां, किताबें और आवश्यक चीजें दान करते हैं। कुछ संगठन नए स्कूल खोलते हैं ताकि गरीब बच्चों को मुफ्त शिक्षा मिल सके और उनकी पढ़ाई में मदद मिल सके। इस दिन ऐसी संस्थाओं को सरकार द्वारा पुरस्कृत भी किया जाता है।

इस महत्वपूर्ण दिन पर समाचार चैनल द्वारा समाचार प्रसारित किया जाता है। टीवी के माध्यम से लोगों को शिक्षा के महत्व के बारे में जागरूक किया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस से संबंधित सभी समस्याओं और समाधानों पर कार्यक्रम दिखाए जाते हैं।

निष्कर्ष: शिक्षा के बिना अच्छे जीवन की कल्पना करना व्यर्थ है। वह न तो अपने लोकतांत्रिक अधिकारों का उपयोग करने में सक्षम है और न ही वह उचित सुविधाओं का उपयोग कर सकता है। इसलिए आज के समय में जीवन में आगे बढ़ने और देश का विकास करने के लिए सभी का शिक्षित होना बहुत जरूरी है, क्योंकि शिक्षा ही सफलता की कुंजी है।
Facebook: Silent Course
YouTube: Silent Course

No comments:

Post a Comment